जब अमेरिका में मु’स्लि’म बनने के बाद तीनों महिलायें हि’जाब में पहुंची था’ने

0
641

दुनिया भर में इ’स्ला’म को इ’स्ला’मो’फो’बि’या से जोड़ा जा रहा है। जितनी कोशिश इसे बद नाम करने की जा रही है उतना ही इ’स्ला’म फलता फुलता लगा तार जा रहा है। जितनी इ’स्ला’म को दुनिया भर में बद नाम करने की कोशिश की जा रही है इ’स्ला’म उतना ही उभर कर सा’मने आ रहा है। एक के बाद एक कई लोग इ’स्ला’म अपना रहे हैं।ऐसा ही नज़ारा देखने को मिला अमेरिका में जहां तीन लड़कियों ने इ’स्ला’म अ’पना लि’या।

अमेरिका में बतौर पुलिस कर्मी वो काम करती थी। ये तीन महीला का नाम येनिरी मदीना, जेब्रि जला और सेरिन तमीमी है। जोकि एक साथ ही काफी समय से पुलिस में थी। तीनों में काफी अच्छी दोस्ती हुई थी और तीनो की पो’स्टिंग एक साथ ही थी। इन लड़कियों में से एक जिनका नाम सेलिन तमीमी जोकि फिलिस्तीन की रहने वाली थी। जो काफी समय पहले अमेरिका आई थी और उस समय वो बहुत ही छोटी थी।

उन्होंने यहां आकर इ’स्लाम अपनाया तथा इ’स्ला’म को फोलो करती थी। जब भी वो ड्युटी पर रहती थी हमेशा हिजाब में रहती थी और हमेशा हेज़ाब पहन कर ही रहती थी और लोगों को इ’स्ला’म की अच्छी अच्छी बातें बताती थी और उन्हें भी हेजाब पहने को कहती थी और इ’स्ला’म के प्रति फैले गए नफरत को कम करने की कोशिश करते थे। उन्होंने बताया कि जैसा की दुनिया वा मीडिया में इ’स्ला’म की छवि है दरअसल ऐसा कुछ नहीं है।

इ’स्ला’म बहुत ही शांतिपूर्ण घ’र्म है। टोरिबिया वा मदीना जोकि इनकी दोस्त थी इनकी बाते खुब गौर से सूना करती थी घीरे घीरे इनकी बातों से मोतासर हुई और इ’स्लाम घर्म अपना लिया और वो अपनी दोस्त तमीमी की ही तरह स्काफ लगा कर ड्युटी पर आती थी। हालांकि टोरिबिया वा मदीना बचपन से ही पीटरसन में ही रही और बड़ी हुई। आज ये तीनो दोस्त खुशी खुशी इस्ला’म घर्म को फोलो कर रही है और हि’जाब पहनकर अपनी ड्यूटी कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here